September 23, 2021

हल्द्वानी लाइव

आपकी आवाज़

जानिए क्यों कृषि बिल पहुंचा सुप्रीम कोर्ट!

केन्द्र सरकार द्वारा बनाये गए नये कानूनों को लेकर किसान संगठनों और केन्द्र सरकार के बीच मतभेद एक आंदोलन का रुप ले चुका है। किसानों की मांग है कि इन कानूनों को वापस लिया जाए वहीं सरकार कानूनों को वापस लेने के बजाए इसे किसानों के हित में बता रही है। जिसके तहत भारतीय किसान यूनियन ने अब सुप्रीमकोर्ट में याचिका दायर की है और बनाए गए इन तीनों कानूनों को चुनौती दी है।  

कृषि बिल पर नाराज किसान कर रहें हैं दिल्ली सीमा पर प्रर्दशन

बीते गुरुवार किसान संगठनों की हुई प्रेस कान्फ्रेंस में किसानों ने ये साफ कर दिया है कि जब तक कानून वापस नहीं लिए जाएंगे, तब तक वो लड़ते रहेंगे और आंदोलन जारी रहेगा। वहीं कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने किसानों को आंदोलन खत्म करने और प्रस्ताव पर शांतिपूर्वक बात करने की मांग की है।

केन्द्र सरकार और प्रदर्शन कर रहे किसानों के बीच हो रही वार्ताओं का कोई नतीजा नहीं निकल रहा है, जिसके चलते शुक्रवार को पीएम नरेन्द्र मोदी ने एक वीडियो ट्वीट करते हुए कहा कि, मंत्रिमंडल के मेरे दो सहयोगी नरेन्द्र सिंह तोमर और पीयूष गोयल ने नए कृषि कानूनों और किसान की मांगो को लेकर विस्तार से बात की है जिसे किसानों को जरुर सुनना चाहिए।  

Share, Likes & Subscribe