हल्द्वानी लाइव – उत्तराखंड लोकसभा 2019 की सबसे हॉट सीट नैनीताल-ऊधमसिंह नगर रही। लोकसभा चुनाव में उम्मीदवारों की घोषणा से लेकर 11 अप्रैल को हुए मतदान तक। और चुनाव परिणाम आने तक ये सीट उत्तराखंड लोकसभा की सबसे हॉट सीट बनी रहेगी। आखि़र कौन होगा सिकंदर ।

हॉट सीट इसलिए क्योंकि इस सीट पर अपनी पूरी जिंदगी राजनीति में बिता चुके कांग्रेस के वरिष्ठ और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत पर सबकी नज़रें टिकीं हैं। क्योंकि उनकी सीधी टक्कर बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट से हुई है। आपको बता दें कि दोनों ही प्रतिद्वंदी  पिछले विधान सभा चुनाव में अपनी अपनी सीटों से ही चुनाव हार चुके हैं। लेकिन इस बार की वाजी जीतना दोनों के लिए ही बेहद अहम है।

अहम इसलिए क्योंकि 2019 का लोकसभा चुनाव वरिष्ठ कांग्रेसी नेता हरीश रावत का बढ़ती उम्र के कारण उनका आख़िरी लोकसभा चुनाव कहा जा रहा है।और ऐसे में अगर वो जीत जाते हैं, तो उनकी ताउम्र राजनीति में बिताई जिंदगी की ये सबसे अहम विजय मानी जाएगी। तो वहीं अगले विधान सभा चुनाव तक के लिए साल 2022 तक पार्टी में उनका कद बढ़ जायेगा। खास बात ये है कि हरीश रावत के चुनाव प्रचार के लिए पार्टी की ओर से ने तो राहुल गांधी पहुंचे और न ही केंद्र से कोई वरिष्ठ कांग्रेसी।  

वहीं अगर हम बात करें बीजेपी के अजय भट्ट की , तो उनके लिए भी नैनीताल-ऊधमसिंह नगर सीट जीतना बेहद अहम है। क्योंकि इस सीट पर उन्हें जो टिकट मिला है, वो उनके आलाकमान तक की सीधी पहुंच का नतीजा रहा है, जिसने पूर्व मुख्यमंत्री और इस सीट पर बीजेपी के सांसद भगत सिंह कोश्यारी का टिकट कटवा कर इस सीट पर खुद का दांव खेल दिया। भट्ट ने जो दांव खेला वो ऐसा वैसा नहीं था।

इस बात का अंदाज़ा आप खुद लगा सकते हैं, कि उनके चुनाव प्रचार में खुद पीएम मोदी वोट मांगने उत्तराखंड चले आये, और तो और बीजेपी की हर इक रणनीति के बादशाह यानि अमित शाह भी भट्ट के चुनाव प्रचार में पहुंचे। राज्य के मुखिया त्रिवेंद्र सिंह रावत समेत कई और भाजपा के कद्दावर नेता भी भट्ट के लिए वोट मांगते दिखाई दिये। ऐसे में भट्ट का इस सीट से जीतना बेहद महत्वपूर्ण हो जाता है। और खुदा न खास्ता चौकीदार का नाम और इतने ताम-झाम के बाद भी भट्ट अगर इस सीट को गंवा देते हैं, तो उत्तराखंड की राजनीति में भाजपा खेमा ही उनका धुर विरोधी बन जायेगा।

Share, Likes & Subscribe