समाज में हर तरह से हो रहे बदलाव के साथ ही लोगों की सोच भी बदल रही है। महिला हो या पुरूष अपनी जरूरतो को लेकर जागरूग होते नजर आ रहे हैं। तो अब वहीं मुस्लिम महिलाएं भी अपने स्वास्थ्य को लेकर एक कदम आगे बढ़ती दिखी। जी हां अब तक परदे में रहने वाली मुस्लिम महिलाएं अपनी सेहत को लेकर काफी संजीदा हो गई हैं और खुद को हेल्दी और तरोताजा रखने के लिए योग को अपने रोजमर्रा के जिंदगी में शुमार कर रहीं हैं। हल्द्वानी स्थित अंतराष्ट्रीय स्पोर्ट्स स्टेडियम में रोजाना सुबह योगा, जॉगिंग व कई तरह के एक्सरसाइज करके अपनी जैसी कई दूसरी महिलाओं को भी जागरूक कर रही हैं।

हर रोज ये नमाज के बाद सीधे एक्सरसाइज के लिए स्टेडिम पहुंचती हैं। बुर्का औऱ स्पोर्ट्स शूज पहने हुए कई तरह के योग और व्यायाम करती नजर आती हैं। समाज को जागरूक करती इन महिलाओं का एक वूमेन कल्ब भी है, जिसकी देखरेख की जिम्मेदारी बॉक्सर रहनुमा कर रहीं हैं। इसके साथ ही वो कल्ब में शामिल दूसरी महिलाओ को ट्रेंनिग भी देती हैं।

31 जुलाई को शुरू की गई इस क्लब में पहले 4 महिलाएं ही थी लेकिन, अब इनकी संख्या बढ़कर 40 से भी अधिक हो गई हैं। क्लब में शामिल होने के लिए किसी भी प्रकार का कोई फीस नहीं रखी गई है। क्लब की दूसरी महिला सदस्य शबनम, आशिका, शमरीन, अर्शी, मंतशा, रूबी और उजमा हैं। कसरत की शुरुआत सुबह जॉगिंग से होती है फिर योगासन, सूर्यनमस्कार और कपालभाति जैसे कई और एकसरसाईज भी कराए जाते हैं।

तेजी से इस क्लब में जुड़ रही मुस्लिम महिलाओं ने लोगों को बीच वर्षों से चली आ रही इस धारणा को बदल के रख दिया है।

Share, Likes & Subscribe