“हल्द्वानी” पूछ रहा है…जबाव दोगे ?

Bol Haldwani Bol
हल्द्वानी पूछ रहा है …जबाव दो…?

हल्द्वानी #HaldwaniLive #BolHaldwaniBol हमारा नाबालिग राज्य #उत्तराखंड जल्द ही बालिग हो जायेगा…लेकिन राजनीति के धुरंदरों ने हमारे राज्य का इतना चीरहरण कर डाला, कि कुछ कहते नहीं सूझता…कोसते सब हैं लेकिन खुलकर-बेबाकी के साथ बोलने की हिम्मत कोई नहीं जुटा पाता…अरे भाई बोलो…अब नही बोलोगे तो कब बोलोगे…

यहां किसी विशेष राजनैतिक दल की बात नहीं हो रही…क्योंकि बहती गंगा में सबने जमकर हाथ धोये हैं…ये वक्तव्य राज्य के कुछ राजनेताओं के लिए अपवाद भी है…दरअसल राज्य के विकास को वो चार चांद नहीं लग पाये जिसका ख्वाब हम सबने देखा था…

शुरूआत हम अपने शहर…अपने घर #हल्द्वानी यानी #नैनीताल जनपद से करेंगे…हल्द्वानी का हाल बेहाल हो चुका है…हमारे शहर ने कई कैबिनेट मंत्री दिये इस राज्य को…लेकिन हल्द्वानी को बदले में क्या-क्या मिला, ये कहने की नहीं, महसूस करने की ज़रूरत है…

किसी भी शहर की सबसे अहम और ख़ास ज़रूरतों में हैं…

  • शहर में आधुनिक बस-अड्डा और रेलवे स्टेशन
  • शहर की ट्रांसपोर्ट-यातायात-परिवहन व्यवस्था
  • सड़कों पर ट्रैफिक जाम न हो…उसके लिए शहर में ओवर-व्रिज…वाईपास…अंडरपास…फ्लाईओवर
  • आधुनिक सुविधाओं से युक्त अस्पताल
  • उच्च-तकनिकि एवं वोकेशनल शिक्षा संस्थान
  • मनोरंजन के आधुनिक संसाधन
  • बेहतर पेय-जल व्यवस्था
  • खेल संसाधन

ये 8 मूलभूत बेहतर सुविधाएं किसी भी राज्य के बड़े शहर में होनी ही चाहिए…क्या नैनीताल जनपद में से सभी बेहतर सुविधाएं है…और अगर नहीं हैं, तो क्यों नहीं हैं कभी सवाल किया है…आपने अपने शहर से…कि हल्द्वानी तुझमें क्या कोई कमी है…या फिर हम में ही कोई ख़ोंट है,जो हमें हर बार छला जाता रहा है…पूछिए अपने आप से ये एक बड़ा सवाल है…???

ये सवाल एक लेख़क के तौर पर न मैं आपसे पूछ रहा हूं, न कोई और…ये सवाल ख़ुद आपसे आपका अपना प्यारा हल्द्वानी पूछ रहा है…जिसने आपको अपने दिल में बसने की जगह दी…बर्षों से जिसने आपको वो सब-दिया जिसकी बदौलत आप अपने परिवार को आगे बढ़ाने में कामयाबी हासिल कर सके…एक बेहतर कल दिया…एक अच्छा समाज दिया…एक संस्कृति दी…अच्छा पर्यावरण दिया…गौला नदी दी…जो कभी आपको प्यासा न रहने दे…अपना सीना चीरकर…पत्थर-रेता-बजरी तक दे दिया…कि जाओ अपनी आजीविका चलाने से लेकर…अपना घर भी तैयार कर लो…

अपने जन्म से लेकर आज तक हमारा प्यारा हल्द्वानी हमें दे ही तो रहा है…ज़रा सोचिए कि हमने अपने हल्द्वानी को क्या दिया…?…उन लोगों ने क्या दिया जिन पर हमने भरोसा दिया…वक्त है राजनीति से बाहर निकलिए…खुलकर अपनी आवाज़ बुलंद कीजिए…क्योंकि आज नहीं तो कल… हम सबको अपने प्यारे नैनीताल ज़िले समेत अपने हल्द्वानी को जवाब तो देना ही होगा…

अभिव्यत्कि की आजादी सबको है…आप भी कमेंट कर अपने विचार रख सकते हैं…

 

Share, Likes & Subscribe

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *