#HaldwaniLive  उत्तराखंड में शुक्रवार 15 दिसंबर से वस्तु और सेवा कर प्रणाली के अंतर्गत ई-वे बिल सिस्टम लागू हो जाएगा। राज्य में पहले इस सिस्टम को टेरयल के तौर पर शुरू किया गया था। लेकिन तब राज्य कर विभाग के पास इस प्रणाली को लागू करने में इस्तेमाल होने वाला अपडेटेड सॉफ्टवेयर नहीं था। लेकिन अब राज्यकर विभाग ई-वे बिल सिस्टम लागू करने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

गुरूवार को खुद राज्य के वित्त मंत्री प्रकाश पंत ने संबधित महकमें के अफसरों से ई-वे बिल को लेकर सारी जानकरी ली। दरअसल राज्य सरकार ने 15 दिसंबर से पूरे प्रदेश में ई-वे बिल लागू करवाने के लिए राज्य कर विभाग को आदेश दिये थे। जिसके लिए राज्य कर विभाग ने व्यापारियों के साथ एक मीटिंग की…जिसमें ई-वे बिल के बारे में व्यापारियों को जानकारी दी गई। लेकिन व्यापारियों ने ई-वे बिल सिस्टम का ही विरोध कर दिया। और वित्तमंत्री पंत के सामने व्यापारियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने ई-वे बिल को लेकर आने वाली परेशानियों को रखा था। लेकिन अब राज्य सरकार ने ई-वे बिल से संबधित सारी तैयारियां पूरी कर ली हैं। और आज 15 दिसंबर शुक्रवार से इसे पूरे प्रदेश में ट्रायल के तौर पर लागू किया जाएगा। ताकि जिन व्यापारियों ने ई-वे बिल में जो खामिया गिनाई थीं…उन पर फीडबैक मिल सके। अगर फीडबैक ठीक ठाक रहा तो राज्य सरकार इसे पूरे सिस्टम के साथ पूरे प्रदेश में लागू भी कर सकती है।

Share, Likes & Subscribe