“सरकार” से No पंगा … Mind it “चैंपियन” ..!

Uttarakhand Cm Trivendra Singh Rawat
                                                     “सरकार” से NO पंगा ..!

उत्तराखंड #BolUttarakhandBol अपने राज्य में डबल इंजन वाली सरकार…दौड़ तो रही है, लेकिन लड़खड़ा के “सरकार” कब गिर जाएं…इसका अंदाज़ा खुद “सरकार” को भी नहीं…लेकिन फिर भी – सरकार से No पंगा … 

राज्य के मुखिया के तेवर सरकार का वक्त ढलने के साथ तीखे होते जा रहे हैं…“सरकार” कब बदल दिये जाएं, ये तो ख़ुद उन्हें भी नहीं मालूम…लेकिन “सरकार” हैं,कि मानते ही नहीं…दल बदलकर सरकार के टिकट पर लड़कर सरकार में जगह बनाने वाले विधायकों को “सरकार” अब उनकी औकात बताने में जुट चुके हैं…ये हम नहीं कह रहे…बल्कि इस बात का गवाह है, शुक्रवार को दून विश्वविद्यालय में हुआ एक वाक्या…एक ऐसा वाक्या जिसने “सरकार” के बद्मिजाज़ होने पर पुख्ता मुहर लगा दी…

दरअसल शुक्रवार को #DoonUniversity में सरकार की ओर  Uttarakhand Budget पर आपकी-राय-आपका-बजट नाम के एक कार्यक्रम का आयोजन रखा गया…हमेशा की तरह “सरकार” इस कार्यक्रम में भी लेट-लतीफी से पहुंचे…राज्य के बजट पर चर्चा और स्टूडेंट्स की राय जानने वाले इस कार्यक्रम में “सरकार” के सलाहकारों ने मंच पर सिर्फ एक कुर्सी की व्यवस्था कर रखी थी…जिस पर सरकार आकर बिराजमान हुए…मंच के ठीक सामने छात्रों और दूसरे अतिथियों के बैठने की व्यवस्था थी…कार्यक्रम की शुरूवात हो चुकी थी…करीब आधे घंटे के बाद…

Uttarakhand Cm In Doon University
         चैंपियन- होगे अपने लिए…हम “सरकार” हैं..!

सूबे के एक रसूखदार…अपनी कद-काठी और रौबीली मूंछों के लिए खासतौर पर पहचाने जाने वाले… Uttarakhand Congress से Uttarakhand BJP में शामिल होकर विधानसभा चुनाव जीतकर विधायक बनने वाले कुंवर प्रणव चैंपियन वहां आ पहुंचे…नीला कोट और काली गोरखा टोपी लगाये राजा-महाराजाओं वाली ड्रेस में चैंपियन अपने खास अंदाज़ में शामियाने से गुजरते हुए सीधे मुख्यमंत्री के मंच की ओर बढ़ निकले…मंच के पास पहुंचते ही “सरकार” के सुरक्षा कर्मियों ने चैंपियन को रोकना चाहा, लेकिन चैंपियन तो चैंपियन ठहरे…जा पहुंचे सीधे मुख्यमंत्री के पास मंच पर…

बस फिर क्या था…पूरा माजरा देखकर “सरकार” का पारा सातवें आसमान पर जा पहुंचा… “सरकार” ने फौरन विधायक को उनकी औकात बताते हुए…मंच के सामने बैठने का इशारा कर दिया…और बता दिया कि “सरकार” वो हैं, न कि दल छोड़कर पार्टी में शामिल होने वाले वो “विधायक” जो पिछली सरकार को गिराने के वक्त खुद को ख़ुदा समझ रहे थे…

BJP Mla Champion
अब “मूछों” पर ताव देकर क्या होगा…चैंपियन साहेब…!

मौके की नजाकत और सरेआम हुई तौहीन का अंदाज़ा विधायक चैंपियन को भी लग चुका था…लिहाज़ा मंच के सामने पहली पंक्ति में दून यूनिवर्सिटी के कुलपति चंद्रशेखर नौटियाल के बगल में पड़ी खाली कुर्सी पर जा टिके…

दरअसल इस पूरे वाक्ये में “सरकार” की बद्मिजाजी तो दिखी ही…लेकिन बिन बुलाये किसी के कार्यक्रम में पहुंचने पर कैसी इज्जत मिलती है, इस बात का अंदाज़ा भी रौब में रहने वाले विधायक चैंपियन को ज़रूर हो गया होगा…और साथ ही महसूस हुआ होगा, कि इससे अच्छे दिन तो कांग्रेस सरकार में थे…कम से कम धाक तो थी…अब ऐेंठते रहिए ऐसे ही मूंछे…इज्जत तो चली ही गई…

लेकिन BJP MLA Kunwar Pranav Champion ( एमएलए कुंवर प्रणव चैंपियन ) के साथ “सरकार” के  इस तरह पेश आने के पीछे की पूरी इनसाइड स्टोरी कुछ और ही है…इस इनसाइड स्टोरी को थोड़ा और पनपने दीजिए…जल्द बताएंगे पूरी Inside Story…!

Share, Likes & Subscribe

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *